टीम इंडिया के धुरंधर बल्लेबाज ने शुरू की प्रैक्टिस / Cricket News



गोरखपुर समाचार ब्यूरो  

भारतीय टेस्ट टीम धुआँधार बल्लेबाजी की रीढ़ हैं, चेतेश्वर पुजारा. लॉकडाउन केचलते लंबे समय के दौरान प्रैक्टिस नहीं कर पाने के बाद बल्लेबाजी करने के लिए उतरे। 

भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम में खेल प्रेमियों को कप्तान विराट कोहली के बाद यदि किसी की बल्लेबाजी पर सबसे ज्यादा भरोसा होता है, तो वो चेतेश्वर पुजारा है।  विकेट पर टीम इंडिया की 'द वॉल' के नाम से जाने वाले राहुल द्रविड़  के ही अंदाज में एकतरफ चिपककर पूरे धैर्य के साथ कमजोर गेंद का इंतजार करने की कला के कारण चेतेश्वर पुजारा को भी फैंस वर्तमान टीम इंडिया की 'दीवार' कहते है।  अब इस दीवार ने लॉकडाउन का दौर खत्म होने के बाद दोबारा प्रैक्टिस शुरू कर दी है,और खून पसीना दोनों एक कर दिया है ,चेतेश्वर ने नेट प्रैक्टिस में बल्लेबाजी करने के समय  की वीडियो और फोटो अपने फैंस के साथ सोशल मीडिया पर भी शेयर की हैं, जिसमें वे कई महीने की बल्लेबाजी की भूख एक ही दिन में मिटा लेने की कोशिश करते दिखाई दे रहे है। 

टीम इंडिया के फील्डिंग कोच R SRIDHAR ने पूछा ऐसा सवाल 

चेतेश्वर पुजारा ने अपने जो फोटो सोशल मीडिया पर शेयर किए हैं, उनमें वह बैटिंग करने के लिए पैड पहनकर तैयार होकर  दिखाई दे रहे है।  फोटो में बैटिंग ग्लव्स की भी लंबी लाइन सजी हुई है।  ये देखकर टीम इंडिया के फील्डिंग कोच आर. श्रीधर (R Sridhar) ने उनसे सवाल करते हुए कहा, 'ग्ल्वस का लाइनअप देखकर लग रहा है कि ये लंबा सेशन होने जा रहा है.' कई फैंस ने भी श्रीधर की  बात का समर्थन भी  किया है। 



चेतेश्वर पुजारा की एक फैन ने लिखी ऐसी अनोखी तारीफ

चेतेश्वर पुजारा की एक फैन ने उनकी बेहतरीन अंदाज में तारीफ करते हुए उनकी तुलना अमेरिका के महान बास्केटबॉल लीजेंड माइकल जॉर्डन (Michael Jordan) से की है. इस फैन ने लिखा, 'पुजारा माइकल जॉर्डन जैसे हैं. पहले वह विपक्षी को मानसिक तौर पर हराते हैं. फिर उसे फिजिकली टॉर्चर करते हैं और तब गेम जीतते हैं.'

काफी लंबे समय से सक्रिय क्रिकेट नहीं खेले चेतेश्वर पुजारा

टीम इंडिया के साथ वनडे और टी-20 में नहीं होने के कारण चेतेश्वर पिछला रणजी सीजन खत्म होने के बाद से ही सक्रिय क्रिकेट से दूर है।  इस दौरान कोरोना वायरस के महामारी   संक्रमण के कारण क्रिकेट बंद हो जाने के चलते वे नेट प्रैक्टिस से भी दूर हो गए थे.लेकिन  टीम इंडिया को इस साल ऑस्ट्रेलिया के कठिन टूर पर जाना हैं, जहां एक डे-नाइट टेस्ट मैच भी खेला जाएगा।  ऐसे में टीम इंडिया के लिए चेतेश्वर पुजारा का अपने पूरे रंग में होना बेहद अहम साबित होगा, बता दें कि घरेलू डे-नाइट 4 दिवसीय मैचों में पुजारा का रिकॉर्ड बहुत बेहतरीन रहा है। 


Post a Comment

0 Comments