कुशीनगर: दहेज केे लिए विवाहिता की हुई हत्या।


Kushinagar: Murder of married woman for dowry.

गोरखपुर समाचार ब्यूरो 

कुशीनगर के सेवरही थाना क्षेत्र के धर्मपुर पर्वत गांव में 28 वर्षीय एक महिला की संदिग्‍ध हालात में बुधवार की रात मौत हो गई। महिला के घरवालों का कहना है की  ससुरालवालों ने  दहेज के लिए हत्‍या किये है। उनका आरोप है कि ,बिना उन्‍हें सूचना दिए शव को जलाने की कोशिश की जा रही थी। उनके पहुंचने पर शव जला रहे लोग मौके से भाग खड़े हुए। और मौके पर पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ दहेज हत्‍या सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।  


तरयासुजान थाना क्षेत्र के भुलिया अगरवा गांव के रहने वाले रामजीत यादव की बेटी प्रियंका की शादी दो साल पहले धर्मपुर पर्वत के रहने वाले नरसिंह यादव के साथ हुई थी। प्रियंका का डेढ़ साल का एक बेटा है। उनके ससुर  और सास की मृत्यु कुछ वर्षों पहले हो चुकी है। पति पंजाब के भटिंडा में मजदूरी करता है। गुरुवार की भोर में प्रियंका के पिता को सूचना मिली की उनकी बेटी की मौत हो चुकी है ,और शव का अंतिम संस्कार किया जा रहा है। रामजीत जब मौके पर पहुंचे तो शव जलाने वाले फरार हो गए। रास्ते में खून बिखरा था। तब तक शव का कुछ हिस्‍सा नहीं जल पाया था। उनकी सेवरही थानाध्यक्ष उमेश कुमार, वरिष्ठ उपनिरीक्षक अमरेंद्र कन्नौजिया और विशुनपुरा थानाध्यक्ष ब्रजेश मिश्र मौके पर पहुंचे। इस दौरान दो थानों के बीच क्षेत्राधिकार को लेकर भी  मतभेद हो गया,यह मामला घंटों उलझा रहा।


मौके पर पहुंचे एएसपी अयोध्या प्रसाद सिंह ने घटनास्थल के आधार पर विशुनपुरा थाने की पुलिस को कार्रवाई का आदेश दिया। विशुनपुरा ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। महिला के पिता ने तहरीर दी कि उसके पति के इशारे पर एक महिला समेत सात लोग उनकी बेटी को दहेज के लिए प्रताड़ित कर रहे थे। उन्‍हीं लोगों ने हत्या की है। तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।  मां की ममता छिन गई बच्चों के लिए मां का सहारा ही सब कुछ रहता है। बिन मां बच्चों की जिदंगी सूनी हो जाती है। प्रियंका की मौत से उसके एक साल के बच्चे से मां की ममता छिन गयी। मासूम को पता नहीं कि उसकी मां अब इस दुनिया में नहीं है। घटना के कुछ देर बाद बच्‍चा मां की गोद में जाने के लिए जिद कर रहा था। उसके आंसू रुक नहीं रहे थे। वह चीख-चीख कर रो रहा था। पड़ोस के लोग उसे गोद में लेकर चुप कराने की कोशिश कर रहे थे लेकिन वह किसी भी तरह चुप नहीं हो रहा था। मौके पर जुटे लोग बच्‍चे के भविष्‍य के बारे में चिंता कर रहे थे। हर जुबां पर बस यही सवाल था कि आखिर प्रियंका की अचानक मौत कैसे हो गई। आखिर उसके बाद इस मासूम बच्चे का क्‍या होगा?

Post a Comment

0 Comments